IBN Live News हर खबर पर पहली नजर
Lakhimpur ...

‘डीएम ने जिला महिला चिकित्सालय का किया औचक निरीक्षण’ निरीक्षण में दिखे डीएम के तल्ख तेवर
लखीमपुर-खीरी 23 मई 2017। जिलाधिकारी आकाशदीप ने आज प्रातः जिला महिला चिकित्सालय का औचक निरीक्षण किया। जहां उन्होनें वहां की स्थितियों का जायजा लिया और मरीजों व उनके तिमारदारों को हर सम्भव सहायता देने के लिए संबंधित को निर्देशित किया। वहां अवस्थाओं के अम्बार देख जिलाधिकारी भड़क गये कहा कि कार्यो तथा साफ सफाई की व्यवस्था को तत्काल दुरूस्त कराया जाये अन्यथा की स्थिति में खामियाजा भुगतने को तैयार रहे। निरीक्षण के दौरान महिला चिकित्सालय की सीएमएस डा0 मीरा वर्मा अवकाश पर थी। निरीक्षण में डीएम ने जननी सुरक्षा योजनार्न्तगत होने वाले पेमेन्ट की जानकारी संबंधित से ली। जिसपर कोई संतोषजनक उत्तर नही मिला। इस पर एएनएम पालो देवी से स्पष्टीकरण लेने के निर्देश मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 जावेद अहमद को दिये। डीएम ने वहां मौजूद प्रभारी सीएमएस से पूछा कि इस समय कितनी महिलाएं भर्ती है इसका भी कोई संतोषजनक उत्तर नही मिला। जिसपर डीएम ने कड़ा रूख अपनाते हुए प्रभारी सीएमएस को निर्देश दिए कि चिकित्सालय में भर्ती मरीज को सभी आवश्यक सुविधाएं चिकित्सालय से उपलब्ध करायी जाये। डीएम ने आशा लक्ष्मी से जननी सुरक्षा योजना के संबंध में भी जानकारी ली। डीएम ने वार्ड में पहुंचकर वहां भर्ती सुमन पत्नी राजेश निवासी खम्भार खेड़ा, चांदनी निवासी पिपरिया बाईपास, रिजवाना निवासी छाउछ से चिकित्सालय में मिलने वाली सुविधाओं के बारे में जानकारी की। इसके उपरांत जिलाधिकारी आकाशदीप ने औषधि रूम, गंभीर नवजात शिशु ईकाई, टीकाकरण कक्ष का निरीक्षण किया। वही नाली की सफाई की दौरान निकला गया मलबा देख डीएम ने नाराजगी जताते हुए कहा कि प्रत्येक दशा में चिकित्सालय में साफ सफाई व्यवस्था चाक चौबन्द रखने के साथ साथ मरीजो की बेड शीट साफ सुथरी रखी जाये। डीएम ने करीब पौने घण्टे तक सीएमएस कक्ष में रहकर जननी सुरक्षा योजना पेमेण्ट की पड़ताल की। हालांकि इस दौरान सुषमा वर्मा ने 1151 में से 751 के पेमेन्ट होने की पुष्टि की। डीएम ने तत्काल डा0 अखिलेश खरे को तलब किया कि और पूछा कि जननी सुरक्षा योजना पेमेन्ट किस स्तर पर लम्बित है। जिसपर डीएम ने निर्देश दिए कि शत प्रतिशत पेमेन्ट यथाशीघ्र कर दिया जाये। इस कार्य में कतई लापरवाही बर्दाश्त नही की जायेगी। उन्होनें कहा प्रसव के 48 घण्टे के भीतर से उसका पेमेन्ट हो जाना चाहिए। डीएम ने कहा कि आज जो भी निर्देश दिए गये है उनका शत प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित किया जाये। अगले निरीक्षण के दौरान खामी पाये जाने की दशा में सम्बन्धित के विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी। निरीक्षण के दौरान अचानक जिलाधिकारी आकाशदीप मरीजो हेतु बनने वाले भोजन की जानकारी करने के लिए स्वयं रसोई घर पहुंच गये जहां उन्होनें सुबह मिलने वाले नाश्ते के साथ साथ भोजन की व्यवस्था की जानकारी ली और निर्देश दिए कि भोजन गुणवत्ता युक्त ढंग से साफ सुथरा बनाकर ही वितरित किया जाये।

CORPORATE OFFICE

+91 9651167749


ankurshukla101996@gmail.com

LIKE US

Copyright © : ibnlivenews.com
Developed By : Softpro India Computer Technologies (P) Ltd.